पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय (Causes And Remedies For Upper Abdominal Pain In Hindi) » Rskg

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय (Causes and remedies for upper abdominal pain in hindi)

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण /Causes of upper abdominal pain

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय टॉपिक पर बात करने वाले हैं कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण कौन-कौन से हैं अर्थात यह कि पेट के ऊपरी हिस्से में जब दर्द होता है तो उसका कारण क्या है जैसा कि बहुत से लोगों को नहीं पता होता है कि पेट के ऊपरी हिस्से में जब दर्द होता है तो उसका कारण क्या होता है तो आप लोगों को परेशान होने की कोई बात नहीं है क्योंकि आज आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले हैं कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने के क्या क्या कारण हैं तो आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताते हैं Iपेट में दर्द होना कोई ज्यादा परेशान होने की बात नहीं है यार बहुत ही आम परेशानी है क्योंकि बहुत से लोगों को यह परेशानी होती है जिससे सभी लोगों के पेट में दर्द होता है जैसा कि आप सुने होंगे कि बहुत से लोग कहते हैं कि आज हमारे पेट में दर्द है इसलिए दोस्तों पेट में दर्द होना कोई गंभीर समस्या नहीं है बल्कि यह एक आम बात है Iपेट में दर्द को हम किसी खास बीमारी का संकेत है लक्षण नहीं कह सकते हैं क्योंकि पेट में दर्द होना आम बात है या एक ही आदमी के पेट में नहीं बल्कि बहुत से आदमी के पेट में कभी-कभी अचानक दर्द होने लगता है इसलिए हम इस बीमारी को खास बीमारी नहीं करते हैं I

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय
पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय

ऐसा इसलिए होता है कि जब हमारे शरीर का कोई भी अंग प्रभावित होता है तो उसका असर दूसरे अंगों पर पड़ता है या होता हैI पेट के दर्द के कई प्रकार होते हैं जिन्हें हम पेट के किस हिस्से में दर्द हो रहा है उस आधार पर हम बांट सकते हैं Iपर आज हम बात सिर्फ पेट के ऊपरी हिस्से में होने वाले दर्द के बारे में करने वाले हैं Iपेट के ऊपरी हिस्से में दर्द कहीं कारणों से होता है जैसे- कई बार तो यह गैस की परेशानी के कारण होता है ऐसा जब किसी व्यक्ति के गैस बनता रहता है तो उसके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने लगता है ,और कई बार गंभीर बीमारियों के कारण जैसे कि ऊपरी पेट में लगातार या गंभीर दर्द ब्लड वेसल्स, किडनी, हार्ट और फेफड़ों से जुड़ी बीमारियों का संकेत भी हो सकता है I

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण तथा उपाय /Causes and remedies for upper abdominal pain

अब हम आप सभी लोगों से बात करने वाले हैं कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कौन कौन से कारण हैं तो आइए हम आप सभी लोगों को इसके कारण के बारे में आप सभी लोगों को फाइंड के आधार पर बताने की कोशिश करता हूं जिससे आप सभी लोगों को अच्छे से समझ में या आसानी से समझ में आ सके कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने के क्या क्या कारण होते हैं –

1. अपच (Indigestion)

अपच होने पर अक्सर पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है I वैसे तो खाने से जुड़ी गलतियों के कारण होता है पर अपच के भी कई कारण होते हैं जैसे कि जल्दी जल्दी खाना खाना, खाना सही से ना पचा पाना,या फिर आपके पेट में कोई बीमारी हो जिसके कारण पेट खाना ना पचना पा रहा हो I इसी के कारण ही पेट के ऊपरी हिस्से में या तो दोनों तरफ जलन हो सकता है या फिर एक ही तरफ जलन हो सकता है जिससे आपके पेट में दर्द होने लगता I इस दौरान पेट के ऊपरी हिस्से में सूजन असहजता महसूस होती है I इसके कारण आप काजिमर चलाने और सोने के बाद गैस की समस्या महसूस हो सकती है इसी के कारण ही आपके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है I

2. गोल ब्लैडर में पथरी गैलस्टोन /Gallstones in the Round Bladder

गर्ल स्टोन में आपके पित्ताशय की थैली यानी कि गोल ब्लैडर मित्र से बने हुए कठोर पत्थर बन जाते हैं जिससे आम भाषा में पित्ताशय की पथरी भी कहा जाता है Iपित्त एक पाचक धर्म है जो आपके लेबर में बनता है और आपके पिता से में जमा होता है जब आप खाते हैं तो आप की दया से की थैली से कोई जाती है और पित्त को आपकी छोटी आत में खाली कर देती है Iपर जब यह पिक ज्यादा बनने लगता है और पथरी का रूप ले लेता है तो उसी के कारण ही आपके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने लगता है I इसके साथ ही आपको अपने दाहिने कंधे में दर्द, उल्टी या मितली और आपके ब्रेस्टबोन के नीचे अचानक तेज दर्द महसूस होने लगता है Iपित्त पथरी के कारण होने वाला दर्द कहीं मिनट से लेकर कुछ घंटों तक रह सकता है ऐसे में डॉक्टर आपके पित्ताशय की थैली को हटाने के लिए सर्जरी का सुझाव देते हैं जिससे कारण अगर आपके शरीर की सर्जरी हो जाएगी तो आपके पित्यासय की थैली हट जाएगी और जब आपके पित्ताशय की थैली हट जाएगी तो आपके पेट में होने वाला दर्द कम हो जाएगा I

3.गैस्ट्राइटिस के कारण /Due to gastritis

गैस्ट्राइटिस उन लोगों को ज्यादा होता है जो लोग शराब का सेवन ज्यादा करते हैं I इसे हम आसान भाषा में समझे तो इसमें आपके पेट की परतों में सूजन आ जाती है यह अक्सर बैक्टीरियल इंफेक्शन के कारण होता है Iअत्यधिक शराब पीने और नियमित रूप से दर्द निवारक दवाओं का उपयोग करने से भी गैस्ट्राइटिस हो सकता है I इस स्थिति में आपके ऊपर ही पेट मेंं दर्दऔर जलन पैदा कर सकती है जो खाने के समय और भी बढ़ सकता है इसलिए गैस्ट्राइटिस से बचाव के लिए हमें ज्यादा तेल मसाला खाने से बचना चाहिए और साथ ही एसिडिटी की दवा और पेन कलर्स का उपयोग करने से बचना चाहिए I

4. पेप्टिक अल्सर (Peptic Ulcer)

पेप्टिक अल्सर एक खुला घाव है जो या तो आपके पेट की परत के अंदर या आपकी छोटी आत के ऊपरी हिस्से पर होता है I पेप्टिक अल्सर का कारण बैक्टीरियल इनफेक्शन या एस्प्रिन जैसे कुछ दर्द निवारक दवाइयों का लंबे समय से उपयोग करने के कारण भी हो सकता है तो इसी के कारण ही आप लोगों के पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने का कारण बन सकती है इसलिए दोस्तों अगर आपके पेट में दर्द है तो आप लोग डिस्प्रिन जैसी दवाइयों का लंबे समय तक उपयोग ना करें नहीं तो यह आपके पेट में दर्द से संबंधित और भी नुकसान पहुंचा सकती है इसलिए आप सभी लोगों को पता नहीं होगा कि डिस्प्रिन का उपयोग ज्यादा करना चाहिए या नहीं तो आप लोग जानते होंगे कि डिस्प्रिन दर्द को खत्म करने में काम आता है लेकिन अगर पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द है तो आप लोग डिस्प्रिन का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग ना करें I

5.नाभि खिसकने पर (Navel Displacement)

मैं आप सभी लोगों को बता दू कि नाभि के खिसकने से भी पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने लगता है I नाभि का हमारे पाचन तंत्र से गहरा संबंध है इसलिए नाभि में किसी भी तरह के असंतुलन हमारे पेट दर्द का कारण बनती है I इसलिए नाभि खिसकने पर हमारे पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने लगता है I हांलाकि यह ध्यान दे तो धीरे-धीरे घूमता रहता है पर आपके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द बनी रह शक्ति है इसके साथ ही आपको खट्टी डकारें, अपच,कब्ज, दस्त आदि जैसे अलग-अलग लक्षण महसूस हो सकते हैं या दिखाई दे सकते हैं I

6. लीवर से जुड़ी बीमारियों में /In liver diseases

लीवर Liver से जुड़ी बीमारियों चाहे वह हेपेटाइटिस हो तो इसके कारण भी आपके पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने लगता है I दिलबर एक्सेस में तो लीवर में फोड़ा हो जाता है जिससे Liver डैमेज होने लगती है I

इस तरह आप लोग समझ गए होंगे कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने के क्या-क्या कारण हैं क्योंकि हमने आप सभी लोगों को पॉइंट के आधार पर ऊपर बता दिया है कि पेट के ऊपरी हिस्से में किसके कारण दर्द होता है मेरे दोस्तों आप सभी लोगों को अच्छे से समझ में आ गया होगा कि पेट के ऊपरी हिस्से में किसके कारण दर्द होता है I

पेट में दर्द होने के लक्षण /Symptoms of abdominal pain

आज हम आप सभी लोगों को यह बताने वाले हैं कि पेट में दर्द होने के लक्षण क्या-क्या है तो आइए हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताते हैं कि पेट में दर्द होने के लक्षण क्या-क्या है जैसा कि बहुत से लोगों को नहीं पता होता है कि पेट में दर्द होने के लक्षण क्या हैं तो आज हम आप सभी लोगों को इसी लक्षण के बारे में बताएंगे जिससे आप सभी लोगों को इसके बारे में जानकारी हो सके कि पेट में दर्द होने के क्या क्या लक्षण होते हैं I

पेट दर्द शब्द से यह पता चलता है कि पेट में ही दर्द होगा सिर्फ दर्द करने का तरीका और दिशा बदलेगा लेकिन इसके भी कुछ लक्षण होते हैं जिन्हें हम आप सभी लोगों को पॉइंट के आधार पर बताने वाले हैं कि यह लक्षण कौन-कौन से हैं तो आइए हम आप सभी लोगों को इस लक्षण को बताते हैं कि यह लक्षण क्या है –

  • 1. जलन भी पेट दर्द होने का एक लक्षण है I
  • 2. रुक-रुक कर पेट में दर्द होना यह भी एक पेट दर्द होने का ही लक्षण है I
  • 3. ज्यादा खट्टी डकार आना या भी पेट में दर्द होने का ही लक्षण है I
  • 4. बुखार या भी एक तरह का पेट में दर्द होने का लक्षण है I
  • 5. ज्यादा गैस बनना या भी एक तरह का पेट में दर्द होने का ही लक्षण है I
  • 6. उल्टी और जी मचलाना यदि एक तरह का पेट में होने वालेे दर्द का ही लक्षण है I
  • 7. पेट में सुई चुभने जैसा दर्द होना भी एक तरह का पेट में होने वाला दर्द ही है I
  • 8. पेट फूलना या भारी महसूस होना या भी एक तरह का पेट में होने वाले दर्द का लक्षण है I
  • 9 . पेशाब करते समय कभी-कभी पेट में दर्द होना यह भी पेट में दर्द होने का एक लक्षण है I
  • तो दोस्तों आप सभी लोगों को पता हो गया होगा कि पेट में दर्द होने के क्या क्या लक्षण हैं जैसा कि हमने आप सभी लोगों को ऊपर पॉइंट के आधार पर बताया है कि अगर यह लक्षण आप सभी लोगों को महसूस होने लगे या दिखाई देने लगे तो आप जान जाइए की हमारे पेट में दर्द होता है जैसा कि बहुत से लोगों के पेट में दर्द होता है परंतु उन्हें पता नहीं चलता है कि हमारा पेट दर्द होता है या नहीं इसलिए हम सभी लोगों को इन लक्षण के बारे में बता दिए हैं जिससे आप पढ़ कर या इस लक्षण को महसूस करके आप पता लगा सकते हैं कि हमारे पेट में दर्द है या नहीं I तो मै यह आशा करता हूं कि पेट में होने के क्या क्या लक्षण है उसके बारे में आप सभी को पता हो गया होगा I

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के उपाय /Upper abdominal pain remedies

अब हम आप सभी लोगों को यह बताने वाले हैं कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने से क्या उपाय हैं अर्थात या कि पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होता है तो हम क्या करें जिससे हमारे पेट में दर्द ना हो इसके क्या उपाय हैं तो आप सभी लोगों को घबराने की बात नहीं है अगर आप लोगों के पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द है तो आप लोगों को परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी लोगों को इस टिप्पणी में पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने से हम क्या करें कि जिससे वह दर्द खत्म हो जाए तो आज हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले हैं I

तो आइए हम आप सभी लोगों को बताते हैं कि पेट में दर्द होता है तो उस दर्द से राहत पाने के लिए हमें क्या उपाय करना चाहिए चाहिए हम आप सभी लोगों को विश्व के बारे में बताते हैं कि अगर हमारे पेट में दर्द है तो हमें उस दर्द से कैसे राहत मिलेे तो आइए हम आप सभी लोगों को बताते हैं कि इन चीजों को करने से आप सभी लोगों को अगर पेट मेंं दर्द है तो उस दर्द से आप लोगों को राहत मिलेगा तो आइए हम आप सभी लोगों इसे पॉइंट आधार पर बताते हैं जिससेेेेे आप सभी लोगों को अच्छे से समझ में आ सके I

1. पेट में दर्द होने पर आहार कैसी होनी चाहिए /What should be the diet in case of stomach ache

मैं आप सभी लोगों को बता दूं कि अगर आपके पेट में दर्द है तो आहार कैसी करनी चाहिए अर्थात खाना कैसा खाना चाहिए तो आइए हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताते हैं I

हल्का भोजन जैसे मूंग की दाल, दलिया, छाछ, पपीता, अनार का जूस भोजन में करना चाहिए I

  • 1. चाय, काफी, दूध का सेवन नहीं करना चाहिए अगर आपके पेट में दर्द है तो I
  • 2. छाछ में भुनी हुई अजवाइन का पाउडर 1/2छोटा चम्मच मिलाकर देना चाहिए जिससे अगर आपके पेट में दर्द है तो उस दर्द को खत्म कर सकता है या राहत प्रदान कर सकता है I
  • 3. जब आप खाना खाए तो खट्टी चीजें जैसे अचार नींबू का सेवन ना करें I
  • 4. अगर पेट में दर्द की वजह से उल्टी भी हो रही है तो कुछ देर तक कुछ नहीं खाना चाहिए और बाद में थोड़ा-थोड़ा करके चावल का पानी, मूंग की दाल का पानी लेना चाहिए क्योंकि यह गुण में हल्की होती हैजिसकी वजह से आसानी से पच भी सकता है इसलिए अगर आपके पेट में दर्द है तो इन्हीं चीजों का सेवन करें जिससे आपके पेट के दर्द में राहत मिल सके I

पेट में दर्द होने के घरेलू उपाय /Home remedies for stomach ache

हम आप सभी लोगों को बताएंगे कि अगर पेट में दर्द है तो हम उस दर्द को दूर करने के लिए घरेलू उपाय क्या करें तो आइए हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले है कि पेट के दर्द को खत्म करने के लिए हम घरेलू उपाय क्या करें तो आगे दोस्तों हम इस घरेलू उपाय के बारे में बताते हैं कि क्या उपाय करें जिससे हमारे पेट के दर्द में राहत मिल सके तो आइए दोस्तों हम इससे आप सभी लोगों को पॉइंट के आधार पर बताते हैं कि क्या करने से हमारे पेट के दर्द में राहत मिल सकती है I

1. अगर आपके पेट में दर्द है और आप उससे राहत पाना चाहते हैं तो आप अजवाइन का प्रयोग करें /If you have a stomach ache and you want to get relief from it, then you should use ajwain.

अगर आपके पेट में दर्द है तो आपके पेट के दर्द को दूर करने का सबसे अच्छा उपाय यह है कि आप अजवाइन का प्रयोग करें I अजवाइन चूर्ण का प्रयोग अजवाइन 2 ग्राम सोंठ दोनों को साथ में अच्छी तरह से पीसकर हल्के गर्म पानी के साथ खाली पेट या नाश्ते के बाद प्रयोग करें यह पाउडर पेट दर्द को कम करता है तथा भूख को बढ़ाता है या पाउडर दिन में दो बार सुबह और शाम को देना चाहिए जिससे आपके पेट में जो दर्द होता है उससे आप को राहत मिल सके I

2. हींग पेट दर्द में बहुत ही लाभकारी है /Asafoetida is very beneficial in stomach pain

मैं आप सभी लोगों को बता दूं कि हींग पेट दर्द में बहुत ही लाभकारी है मैं आप लोगों को बता दूं कि अगर आपके पेट में हल्का फुल्का दर्द है या अगर आपके बच्चे के पेट में हल्का फल्का दर्द है तो आप हींग का प्रयोग करें जिससे आप के दर्द में राहत मिल सके क्योंकि हींग दर्द के मामले में बहुत ही लाभदायक होता है I

आधा चम्मच हींग को पानी के साथ मिलाकर पेस्ट बना लें I ऐसी पोस्ट को बच्चों की नाभि के किनारे किनारे लगा दे ऐसा करने से बच्चे के पेट के दर्द में बहुत जल्द ही आराम मिल सकता है I

3. नींबू पेट दर्द के लिए बहुत ही लाभदायक होता है /Lemon is very beneficial for stomach pain

आप सभी लोगों को बता दूं कि नींबू पेट दर्द के लिए बहुत ही लाभदायक होता है क्योंकि अगर आपका पेट दर्द होने लगे और आप नींबू का रस पानी में मिलाकर और हल्का काला नमक मिलाकर पीएं तो आपके पेट केे दर्द में बहुत ही लाभदायक होता है तथा इसे पीने से आपके पेट के दर्द में आराम मिल सकता है I

4. काला नमक पेट दर्द से दिलाए राहत /Black salt to get relief from stomach pain

हम आप सभी लोगों को बता दूं कि काला नमक भी आपके पेट दर्द में काम आता है आप सभी लोगों को बता दो कि अगर आपका पेट हल्का फुल्का दर्द होता हो या आपकी किसी बच्चे का पेट हल्का फुल्का दर्द होता हो तो आप काला नमक का प्रयोग करें जिससे आपके पेट के दर्द में राहत मिल सके I

काला नमक, सोठ, हींग,अजवाइन इन सभी को बराबर मिलाकर चूर्ण बना लें फिर दो 2-2 ग्राम की मात्रा में सुबह नाश्ते और शाम नाश्ते और रात के खाने के बाद थोड़ा गर्म पानी से इसका प्रयोग करें यह आपके पेट में गुड़गुड़ाहट और पेट के ऐठन में भी आराम मिल सकता है I

खाने के बाद पेट में दर्द होना /Stomach pain after eating

हम आप सभी लोगों को बताने वाले हैं कि खाना खाने के बाद पेट में दर्द होना तो आइए हम आप लोगों को बताते है कि खाना खाने के बाद पेट में क्यों दर्द होता है इसी के बारे में बताने वाले हैं कि जब हम लोग खाना खा चुके होते हैं उसके बाद में पेट में क्यों दर्द होने लगता है आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले हैं कि खाना खाने के बाद पेट में दर्द क्यों होता है I

अगर खाना खाने के बाद हर बार आपको पेट में दर्द, सूजन, गैस या उल्टी जैसा महसूस होता है तो यह एक गंभीर समस्या हो सकती है इसलिए ऐसी समस्याओं से बचने के लिए आप लोग किसी डॉक्टर दिखा सकते हैं जिससे आपको कोई परेशानी ना हो सके और अगर आप डॉक्टर को नहीं दिखाते हैं तो आपको इससे परेशानी हो सकती है क्योंकि खाना खाने के बाद पेट में दर्द होना कोई आम बात नहीं है I पेट में दर्द या अपच विभिन्न कारणों से हो सकता है I जैसे यह तब होता है जब शरीर में कोलेस्ट्रॉल के कारण रक्त वाहिकाएं अवरुद्ध हो जाती हैं अर्थात रक्त का बहना बंद हो जाता है इसी के कारण ही खाना खाने के बाद हमें पेट में दर्द का महसूस होने लगता है जब रुधिर वाहिका है अवरुद्ध हो जाती हैं तो यह शरीर के पाचन तंत्र को प्रभावित करती है यही कारण है कि खाना खाने के बाद हमारा या हमारे पेट में दर्द महसूस होने लगता है I इस प्रकार जब आप भोजन करते हैं तो यह पेट में दर्द का कारण हमेशा बना रहता है तो यह सलाह दी जाती है के कोलेस्ट्रॉल के स्तर को ध्यान में रखना चाहिए I आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर ए के मिश्रा आपको पेट में दर्द होने की समस्या के बारे में बताने वाले हैं I

खाद्य अति संवेदनशीलता /Food hypersensitivity

जब हमारे शरीर में एंजाइम की कमी होती है तो यह छोटे कणों में भोजन को तोड़ नहीं सकता अर्थात दिया कि जब आप भोजन करते हैं तो भोजन को छोटा या महीन नहीं कर पाता है I इस प्रकार हम भोजन के बाद दर्द महसूस करना शुरू करते हैं अर्थात या कि इसी के कारण जब हम खाना खा चुके होते हैं तो दर्द महसूस होने लगता है I इसे खाद्य अर्थ संवेदनशीलता के रूप में जाना जाता है I इससे कब्ज, दस्त, छाले, गैस आदि की समस्या हो सकती है I

दोस्तों हम आप सभी लोगों को बताने वाले हैं कि खाना खाने के बाद में पेट में दर्द होने के कारण क्या क्या है जाइए हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले हैं I

फूड एलर्जी /Food allergies

यह लगभग खाद्य अतिसंवेदनशीलता तरह है I इस सर्त के तहत हमारा शरीर कुछ खाद्य पदार्थों को स्वीकार नहीं कर पाता है यह स्वीकार नहीं कर सकता है I विभिन्न प्रकार के फूल एलर्जी प्रचलित जैसे की डेयरी,स्टार्च, मसाला यहां तक कि अनाज यानी फूड ट्रेन से एलर्जी है I

गर्मी में अगर आपका पेट खाना खाने के बाद दर्द होता है तो आप उस दर्द से राहत पाने के लिए पुदीने के पानी का सेवन करें जिससे आपके पेट में दर्द होने की समस्या से राहत पहुंचा सकता है I

कब्ज की समस्या

मैं आप सभी लोगों को बता दूं कि खाना खाने के बाद हमारा पेट दर्द होने लगता है इसमें कब्ज की समस्या महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है क्योंकि कब्ज की समस्या से भी हमारा पेट दर्द होने लगता है I अगर कब्ज की समस्या है तो आप भयानक पेट दर्द का सामना कर सकते हैं I जब Movement की कमी होती है मल शरीर से बाहर नहीं निकलता हाय तो नए भोजन को बचाना संभव होता है इससे पेट में दर्द या सूजन हो सकता है I इसी के कारण ही पेट में दर्द खाना खाने के बाद होने लगता है I

पेट के दाहिने ऊपरी हिस्से में दर्द /Pain in right upper abdomen

आज हम आप सभी लोगों को इसके बारे में बताने वाले हैं पेट के दाहिने ऊपरी हिस्से में दर्द कैसे होता है अर्थात क्यों होता है इसी के बारे में आप सभी लोगों को बताने वाले हैं तो आइए दोस्तों हम आप सभी लोगों को इसके बारे में बताने की कोशिश करते हैं या बताते हैं I

पेट दर्द होना किसी अंग में खराबी या समस्या का संकेत करता है पेट दर्द आखिर क्यों होता है कहां होता है इस बात पर निर्भर करता है कि बीमारी क्या है पेट में दर्द कुछ समय या लंबे समय तक हो सकता है I और तेज या कम भी हो सकता है My Upchar के अनुसार पेट में दर्द का स्थान ऊपरी हिस्से में दाएं या बाएं किनारे निचले हिस्से में दाएं या बाएं किनारे ऊपरी माधव निचले हिस्से में भी हो सकता है I पेट में दर्द कहीं अलग-अलग कारण से हो सकता है जो आराम से लेकर गंभीर तक हो सकता है अगर पेट के दाहिने और दर्द महसूस कर रहे हैं तो इनमें यह चार कारण हो सकते हैं जो हम आप सभी लोगों को अभी नीचे बताने वाले हैं कि वह चार कारण कौन-कौन से हैं इन 4 कारणों के अलावा भी पेट के दाहिने हिस्से में दर्द की वजह हो सकती है जिससे आप लोगों को डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए कि हमें क्या करना चाहिए तो डॉक्टर आपको बताएगा कि आपको इस समय क्या करना चाहिए I

तो आइए हम आप सभी लोगों को चार कारणों को पॉइंट के आधार पर बताते हैं कि वह कौन से चार कारण हैं जिससे हमारे पेट में के ऊपर दाहिने हिस्से में दर्द होता है तो आइए हम उन चार कारणों को दर्शाते हैं –

1. कब्ज /Constipation

आप सभी लोगों को बता दूं कि कब्ज के कारण भी पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द हो सकता है I कब्ज होने का मतलब है मल त्याग में परेशानी होना या मल का सामान्य से कम आना,यह स्थिति तब होती है जब व्यक्ति का पाचन तंत्र खराब हो जाता है इसका कारण यह है कि वह जो भी खाता है उसे बचा नहीं पाता है इसी के कारण ही उसके पेट के दाहिने हिस्से में दर्द होता रहता है आमतौर पर यह गंभीर नहीं है कुछ चिकित्सकीय कारण जो कब पैदा कर सकते हैं वे है हायपोथायरायडिजम, कोलोन,और मलाशय के संक्रमण, इरिटबल , बाउल, सिंड्रोम, बाउल कैंसर आदि I

2. पित्ताशय की पथरी /Gallstones

पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द का कारण यह भी है कि पित्ताशय की पथरी I पित्ताशय की पथरी क्रिस्टल जैसे पदार्थ होता है जो पित्ताशय में बनने लगता है, पिता से एक नाशपाती जैसे दिखने वाला शरीर का आंतरिक अंग है जो लीवर के ठीक नीचे होता है लीवर से स्रावित होने वाले द्रव यानी पितरस को यह संग्रहित करता है I पित्ताशय में डाइजेस्टिव फ्लूइड के छोटे, कठोर यह डिपॉजिट्स के दाहिने हिस्से में दर्द को जन्म दे सकता है पित्ताशय की पथरी के सामान्य लक्षणों में पीठ में दर्द, ऎठन, मतली,उल्टी, अपच शामिल है I

3. पेट का अल्सर /Stomach ulcers

पेट के दाहिने हिस्से में दर्द का यह भी एक महत्वपूर्ण कारण है Iपेट में एसिड होने के कारण अगर पेट खराब हो जाता है तो अल्सर पेट, ग्रास नली या छोटी आत में हो सकता है पेट के दाहिने हिस्से में दर्द के साथ अन्य लक्षणों में सीने में दर्द, मतली,अपच, सीने में जलन, उल्टी और थकान भी शामिल हो सकते हैं I

MyUpchar से जुड़े डॉ लक्ष्मी दत्ता शुक्ल का कहना है कि पेट के अल्सर को गैस्ट्रिक अल्सर के नाम से भी जाना जाता है I यह कई कारणों की वजह से होता है जैसे बैक्टेरियम, हेलीकोबेक्टर, पाइलोरी से Infection हो जाना, सूजन रोधी स्टेरॉयड दवाई का ज्यादा इस्तेमाल, शराब की लत ,रेडिएशन थेरेपी, जलन और शारीरिक चोट आदि शामिल होते हैं I

4. अपेंडिसाइटिस /Appendicitis

यह पेट के दाहिने हिस्से में दर्द का सबसे आम कारण है I यदि अपेडिक्स भूल जाता है तो यह अपेंडिसाइटिस का कारण बनता है,अपेंडिसाइटिस के संकेतों को जानना महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर इसका इलाज समय पर नहीं किया गया तो यह बहुत गंभीर हो सकता है अर्थात यह की अगर इसका इलाज समय पर नहीं किया गया तो यह आपके शरीर में काफी नुकसान पहुंचा सकता है इसलिए इसका इलाज हमें जल्द से जल्द कर लेना चाहिए I दर्द के अलावा मतली, उल्टी, भूख ना लगना, सूजन और बुखार भी हो सकता है क्योंकि अपेंडिसाइटिस अपेंडिक्स के फटने का कारण बन सकता है I इलाज ना होने पर घातक हो सकता है उपचार में एंटीबायोटिक योग एयरपोर्ट टो में शामिल हो सकता है जो अपेंडिक्स को हटाने के लिए सर्जरी है I

आप लोगों को यह पता हो गया होगा कि पेट में ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द के कौन कौन से कारण है क्योंकि हमने इसके कारण को बताया है कि यह चार प्रकार के कारण हो सकते हैं हमने उन चार कारणों को पॉइंट के आधार पर विस्तार में बता दिया है कि इन 4 कारणों से पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द हो सकता है अगर आप लोगों को इसके बारे में नहीं पता है तो हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़ना जिससे आप सभी लोगों को पेट के दर्द के बारे में बहुत ही अच्छी जानकारी प्राप्त हो सकेगी क्योंकि हमने इस पोस्ट में पेट के दर्द के बारे में ही विवेचना की है अर्थात दिया कि हमने पेट के बारे में इस पोस्ट में विस्तार से बताया है इसलिए अगर आपको पेट संबंधित कोई भी जानकारी देती हैं तो आप हमारे इस पोस्ट को जरूर पढ़ें जिससे आप लोगों को पेट में दर्द के बारे में जानकारी हो सके I

पेट के ऊपरी हिस्से में जलन /Burning in upper abdomen

आज हम आप सभी लोगों से इस टॉपिक पर बात करने वाले हैं कि पेट के ऊपरी हिस्से में जलन क्यों होता है तथा कैसे होता है जैसा कि बहुत से लोगों को नहीं पता होगा कि पेट के ऊपरी हिस्से में जलन क्यों होता है तो आज हम आप सभी लोगों को इसके बारे में बताने वाले हैं जिससे आप सभी लोगों को आसानी से पता हो सके कि हमारे पेट के ऊपरी हिस्से में जलन क्यों होता है तो आइए हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले है I

जिससे पेट में जलन, भारीपन, गैस, अपच, पेट के ऊपरी भाग में सूजन व दर्द, कुछ भी खाते ही पेट भरने जैसा लगने लगे, सीने में जलन जैसी तकलीफें होती हैं I इसे डिस्पेप्सिया कहते हैं I आंतों की कार्यशील ताकत होने से ऐसा होता है जिससे भोजन करते ही वह मुंह में आने लगता है यह स्थिति एसिड रिफ्लक्स की है I

आइए मैं आप सभी लोगों को बताने वाले हैं पेट में जलन क्या है जैसा कि यहां बहुत से लोगों को नहीं पता होगा कि पेट में जलन किया है तो आज हम आप सभी लोगों को सबसे पहले इसी को ही बताएंगे कि पेट में जलन होना क्या कहलाता है या पेट में जलन होना क्या है I

पेट में जलन एक ऐसी समस्या है जो एसिड की अतिरिक्त मात्रा बढ़ने के कारण होती है Iपेट में एसिड की समस्या किसी को भी हो सकती है चाहे वह बच्चा हो चाहे वह बूढ़ा हो चाहे वह जवान हो इत्यादि Iएसिड पेट के ग्रंथियों द्वारा उत्पादित होता है और पेट में जलन की समस्या उत्पन्न करता है I इसके अलावा पेट में सूजन, हॉर्ट के समस्या और अल्सर जैसे लक्षण को पैदा कर सकता है जैसा कि आपको पहले बताया यह समस्या केवल आपके गलत खानपान और अधिक फास्ट फूड का सेवन करने से होता हटा दिया कि आप कईकई तरह के खाना खाते हैं और जब आप खाना खाते हैं तो आप बहुत तेजी से खाना खाते हैं ऐसी स्थिति में आपके पेट में जलन होने की संभावना रहती है I

तो आप सभी लोगों को पता हो गया होगा कि पेट में जलन क्यों होता है जैसा कि हमने ठीक ऊपर टिप्पणी में बताया है कि आप कई तरह के खाना खाते हैं इससे भी आपके पेट में जलन हो सकता है और आप जब खाना खाते हैं तो बहुत से लोग होते हैं कि बहुत तेजी से खाना खाते हैं इससे भी पेट में जलन होने की समस्या रहती है I

पेट में जलन के कारण /Due to stomach irritation

अब हम आप सभी लोगों को बताऊंगा कि पेट में जलन के कौन कौन से कारण हैं जिससे कि पेट में जलन होता है आज हम आप सभी लोगों को उन कारणों के बारे में बताएंगे तथा आप सभी लोगों को पॉइंट के आधार पर बताएंगे कि वह कौन सा कारण है जिससे हमारे पेट में जलन होता है तो आइए हम आप सभी लोगों को इस कारण को बताने की कोशिश करते हैं या बताते हैं I

  • 1. पेट में जलन या एसिडिटी की समस्या हर किसी को होती है क्योंकि या खान-पान से जुड़ी होती है I
  • 2. गर्भावस्था के दौरान महिला के शरीर में एसिड रिफ्लेक्स हो जाता है I क्योंकि बैटरी अंगों पर आंतरिक दबाव पड़ता है इसके कारण अधिक एसिडिटी की समस्या होती है यह भी पेट में जलन का ही कारण है I
  • 3. अधिकतर लिए युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने से पेट में एसिडिटी की समस्या उत्पन्न हो जाती है अर्थात या की ज्यादा तले भुने पदार्थों को खाने से भी हमारे पेट में जलन की समस्या हो जाती है I
  • एसिडिटी के अन्य कारक भी शामिल होते हैं जिन्हें आप सभी लोगों को पाठ के आधार पर बताने वाले हैं जैसे-
  • 1. मोटापा
  • 2. अधिक धूम्रपान करना I
  • 3. अत्यधिक तनाव होना
  • 4. मांसाहारी भोजन का मसालेदार खाद्य पदार्थों का अधिक सेवन करने से भी पेट में जलन का कारण बनता है I

5. शारीरिक गतिविधियां नहीं करना इत्यादि एसिडिटी के कारण हो सकते हैं I

पेट में जलन के लक्षण /Stomach irritation symptoms

पेट में जलन के कौन-कौन से लक्षण होते हैं हम आप सभी लोगों को इसके बारे में बताने की कोशिश करते हैं या बताते हैं कि पेट में जलन के क्या लक्षण है हम आप सभी लोगों को इसे पॉइंट के आधार पर बताएंगे जिससे आप सभी लोगों को अच्छे से समझ में आ सके कि पेट में जलन के क्या लक्षण है I-

  • 1. पेट में जलन होना या भी पेट में जलन का लक्षण है I
  • 2. सीने में दर्द होना यह भी पेट में जलन होने का एक लक्षण ही है I
  • 3. मतली या उल्टी होना या भी एक पेट में जलन होने का लक्षण है I
  • 4. पेट फूलना अभी पेट में जलन का ही लक्षण है I
  • 5. सांसों में दुर्गंध यह भी एक पेट जलन का ही लक्षण है I
  • 6. सूखी खांसी आना भी एक पेट जलन का ही लक्षण है I
  • 7. हिचकी आना यह अभी एक पेट में जलन का लक्षण है I
  • 8. बिना कारण वजन कम होना यह भी एक पेट में जलन का ही लक्षण है I
  • 9. गले में दर्द होना अभी एक पेट में जलन का ही लक्षण है I
  • 10. निगलने में अधिक कठिनाई हो ना या अभी एक पेट में जलन का ही लक्षण है I
  • तो दोस्तों आप सभी लोगों को पता हो गया होगा कि पेट में जलन के कौन-कौन से लक्षण हैं क्योंकि हमने आप सभी लोगों को ऊपर पॉइंट के आधार पर बताया है पेट में जलन के कौन-कौन से लक्षण हैं अगर आप लोगों को नहीं पता है तो आप हमारे इस पोस्ट पर एक बार जरूर पढ़ें जिससे आप सभी लोगों को पता हो सके कि पेट में जलन के क्या कारण हैं तथा पेट में जलन के क्या लक्षण हैं क्योंकि हमने इस पोस्ट में आप सभी लोगों को पेट के दर्द संबंधित कई सवालों के जवाब आप लोगों को इस पोस्ट में मिल सकते है I

पेट में जलन का इलाज क्या है /What is the treatment for burning in stomach

पेट में जलन की समस्या को ठीक करने के लिए चिकित्सक रोजाना के जीवन शैली में बदलाव करने का सुझाव देते है I एसिडिटी के लक्षणों को कम करने के लिए कुछ दवाओं की खुराक भी देते हैं तो आइए हम इस तरह से एसिडिटी का उपचार कर सकते हैं कि डॉक्टर हमें पेट में जलन के इलाज के लिए कौन सी दवाई देते हैं I हम आप सभी लोगों को पेट में जलन का इलाज क्या है इसे पॉइंट के आधार पर बताने की कोशिश करते हैं या बताते हैं जिससे आप सभी लोगों को अच्छे से समझ में आ सके कि पेट में जलन का इलाज क्या / है –

पेट में सूजन क्यों होती है/Why does the stomach swell

पेट की अंदरूनी परत कमजोर होने पर सूजन होती है I ऐसा कई कारण से हो सकता है अधिकांश मामलों में बैक्टीरिया हमला करते हैं इसलिए पेट में सूजन होती I पेट में हमला करने वाले बैक्टीरिया में हेलीकोबेक्टर पाइलोरी सामान्य है Iदूषित पानी दूषित खाना खाने से बैक्टीरिया हमला बोलता है जिससे पेट के अंदर या पेट में सूजन हो जाती है और लोग उससे परेशान हो जाते हैं I इसके अलावा अत्यधिक शराब पीने वालों में गैस्ट्राइटिस का जोखिम अधिक रहता है I इसके अलावा जो लोग तनाव में रहते हैं उनमें गैस्ट्राइटिस की आशंका रहती है कुछ दवाएं भी इसका कारण बनती है अधिक तंबाकू और धूम्रपान करने से भी पेट में सूजन हो सकती है इसलिए जो ज्यादा तंबाकू खाते हैं तथा धूम्रपान करते हैं अर्थात सिगरेट बीड़ी ज्यादा पीते हैं तो पीना कम कर दे नहीं तो इसके कारण भी पेट में सूजन हो सकती है I

सभी लोगों को पता हो गया होगा कि पेट में सूजन क्यों होती है जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि पेट में सूजन कई तरह के नशीली पदार्थों से भी होता है जैसा कि तंबाकू धूम्रपान करना इससे भी पेट में सूजन हो सकता है इसलिए दोस्तों जो भी तंबाकू धूम्रपान का सेवन करते हैं उनको इसे छोड़ देना चाहिए या फिर कम कर देना चाहिए अर्थात उनका सेवन कम करें I

पेट में सूजन के लक्षण /Stomach bloating symptoms

आज मैं आप सभी लोगों को बताने वाले हैं कि पेट में सूजन के क्या लक्षण है जिससे आप लोगों को पता हो जाए कि हमारे पेट में सूजन है हम आप सभी लोगों को इसे पॉइंट के आधार पर बताने की कोशिश करते हैं I

  • 1. पेट के ऊपरी भाग में बेचैनी यह भी पेट में सूजन का लक्षण है I
  • 2. पेट के ऊपरी हिस्से से लेकर मध्य भाग में दर्द यह भी पेट में सूजन का लक्षण है I
  • 3. पेट या पीठ के बाई तरफ दर्द यह भी पेट में सूजन का लक्षण है अर्थात या की पेट या पेट के बाई तरफ अगर दर्द होता है तो आप जान जाइए कि आपके पेट में सूजन है I
  • 4. लगातार डकार या उबकाई आना अगर आपको लगातार डकार आता है तो आप समझ जाइए कि हमारे पेट में सूजन है I
  • 5. मितली और उल्टी आना यह भी पेट में सूजन का लक्षण है I
  • 6. पेट भरा हुआ महसूस होना यह भी पेट में सूजन का ही लक्षण है I
  • 7. पेट के ऊपरी भाग में जलन यह भी पेट में सूजन का लक्षण है I
  • 8. पेट फुला हुआ महसूस हो तो आप जान जाइए कि पेट में सूजन है I
  • 9. पसीना आना, धड़कन तेज होना यह भी एक पेट में सूजन का ही लक्षण है I
  • 10. बेहोशी या सांस लेने में कठिनाई तो आप जान जाइए कि हमारे पेट में सूजन है I
  • 11. छाती में दर्द या पेट में गंभीर दर्द तो आप समझ जाइए कि हमारे पेट में सूजन है I

पेट में सूजन से बचने के घरेलू उपाय /Home remedies to get rid of stomach bloating

पेट में सूजन होने से बचने के लिए आप घरेलू उपाय क्या करें जिससे आपके पेट में सूजन हो तो खत्म हो जाए या फिर पेट में सूजन ना हो तो हम आप सभी लोगों को इसी के बारे में बताने वाले हैं क्योंकि पेट में सूजन से बचने के घरेलू उपाय के बारे में बहुत से लोगों को नहीं पता होगा कि अगर हमारे पेट में सूजन है तो हम घरेलू उपाय क्या करें जिससे हमारे पेट में सूजन खत्म हो जाए I

पेट की सूजन से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय में लौंग सबसे फायदेमंद होता है अगर दोस्तों आपके पेट में सूजन है तो उसको खत्म करने के लिए आप लौंग का प्रयोग करें जिससे आपके पेट का सूजन खत्म हो सके I रोज 2 से 3 लौंग या इनके पानी का सेवन करने से पेट स्वस्थ रहता है I खाना पकाते समय लहसुन का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग करें दोस्तों लहसुन का प्रयोग खाने में तो वैसे सभी लोग करते हैं परंतु लहसुन का प्रयोग खाली पेट में करना चाहिए I जिससे या फायदा होता है कि अगर आपके पेट में सूजन है तो आपके पेट का सूजन खत्म हो सकता है इसलिए लहसुन बहुत फायदेमंद होता है I लेकिन ध्यान रहे कि लौंग और लहसुन दोनों गर्म होते हैं I इससे पेट में गर्मी हो सकती है I नीम की पत्तियां भी पेट की सूजन का प्राकृतिक इलाज है अगर आपके पेट में सूजन है तो आप नीम की पत्तियों का सेवन कर सकते हैं जिससे आपके पेट में सूजन हो तो वह खत्म हो सकता है I चावल का पानी पीने से पेट स्वस्थ रहता है I

आप सभी लोगों को पता हो गया होगा कि पेट में सूजन के घरेलू उपाय क्या है अर्थात या कि अगर आपके पेट में सूजन हो तो आप कौन सा घरेलू उपाय करें जिससे आपके पेट का सूजन खत्म हो सके हमने पेट के दर्द के बारे में बताया है जैसा कि आप इस टिप्पणी में पेट से संबंधित कई सवालों के जवाब पा सकते हैं इसलिए आप हमारे इस पोस्ट को पढ़ें जिससे आप लोगों को पेट से संबंधित कई सवालों का ज्ञान प्राप्त हो सके I

निष्कर्ष / Conclusion

इस पोस्ट को पढ़ने के बाद यह निष्कर्ष निकलता है कि आप लोग इस पोस्ट को लड़ेंगे तो इस पोस्ट में आप सभी लोगों को पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त हो जाएगी क्योंकि हमने इस पोस्ट में पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने के बारे में बहुत विस्तार से बताया है I

इस पोस्ट में आप सभी लोगों को पेट के दर्द के बारे में कई सवालों के जवाब मिल जायेंगे अगर आपको कोई भी सवाल का जवाब नहीं मिलता है तो आप हमे कमेंट करके बताएंंI

पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द के कारण

पेट में सूजन क्यों होती है ?

पेट की अंदरूनी परत कमजोर होने के कारण ही पेट में सूजन होती है I

पेट में सूजन से बचने के लिए घरेलू उपाय क्या है ?

पेट में सूजन से बचने के लिए घरेलू उपाय या है कि आप लहसुन और लौंग का प्रयोग करें जिससे आपके पेट में सूजन होने से बच सकते है I

खाना खाने के बाद पेट में दर्द होना?

अगर आपको खाना खाने के बाद पेट में दर्द रोजाना होता है तो आप किसी ना किसी डॉक्टर को दिखा दे नहीं तो यह एक गंभीर समस्या हो सकती है I

पेट में दर्द किन कारणों से होता है?

पेट में दर्द कई कारणों से होता है जैसे अगर आपके गैस बनता है तो उससे भी पेट में दर्द हो सकता है I

पेट में दर्द होने से बचने के लिए हम क्या करें?

पेट में दर्द होने से बचने के लिए हमें किसी डॉक्टर या आयुर्वेद को दिखाना चाहिए I

काला नमक किस काम के लिए आता है?

काला नमक अगर आपका पेट हल्का फुल्का दर्द हो रहा हो तो काला नमक को पानी में घोलकर पी ले जिससे आपके पेट के दर्द को कुछ राहत मिल सकता है और यह भी कि काला नमक लोग खाते भी हैं I

Leave a Comment